Tuesday, 27 April 2021

Rahu in 9th house: impact in life, 7th house Rahu remedy | राहु का 7वे घर मे ज्योतिषी फल और उपाय

Rahu result in 7th house,

7 वां घर आमतौर पर विवाह, वैवाहिक शांति, जीवनसाथी के साथ संबंध, विवाह में खुशी और जीवनसाथी से अलगाव या तलाक के लिए होता है। 7 वां घर व्यापार साझेदारी के लिए भी है। वैदिक मान्यताओं के अनुसार, यदि राहु को 7 वें घर में रखा जाता है, तो इसे आमतौर पर प्रतिकूल और अशुभ माना जाता है। यह भी संभावना है कि यह घर के पहलुओं पर नकारात्मक प्रभाव लाएगा।

राहु की इस स्थिति के कारण जीवन में बाधाएं, कष्ट और एक उपयुक्त जीवनसाथी पाने में असमर्थता भी होती है, भले ही अन्य ग्रह राहु के नकारात्मक प्रभाव को कम कर रहे हों। इस घर में राहु के साथ अन्य अशुभ ग्रहों को रखने पर नकारात्मक प्रभाव और अधिक प्रबल हो जाता है।

राहु के बूरे फल को कम करने के लिए उपाय rahu remedy when rahu in 7th house

7वे घर में राहु के प्रभाव को कम करने के लिए, मंत्रों का जाप करना चाहिए, और राहु मंत्र ॐ भ्रां भ्रीं भ्रौं सः राहवे नमः का अपने परम प्रभाव के लिए चालीस दिनो में 18000 बार जप करना चाहिए। उसके बाद प्रतिदिन राहु मंत्र का 1 माला जाप करना चाहिए। एक यंत्र रखें एक और प्रभावी उपाय है भाग्यशाली यन्त्र रखना और ग्रहों के पुरुष प्रभाव को कम करने के लिए अन्य सरल उपायों को आजमाना। ये उपाय किसी भी तरह की समस्याओं को कम करते हैं, समग्र स्थितियों में सुधार करते हैं और सौभाग्य को बढ़ाते हैं। विभिन्न ग्रहों के लिए यंत्र प्रत्येक ग्रह के सकारात्मक कंपन को आकर्षित करते हैं। राहु यंत्र राहु के लिए एक परीक्षण और एक लोकप्रिय उपाय है।

Read More »

How to practice fast | Simple and easy steps व्रत कैसे करें सरल भाषा मे


1. व्रत करने से हमारे मन दाँत होता है। अच्छे विचार की संभावना बढ़ जाती है
2 व्रत करने से हमारे पुण्य में वृद्धि होती है
3 हमारी सेहत बेहतर होती है अगर सप्ताह में एक बार किया जाए तो
4 देवता प्रसन होते है

Scientific reason for pratising fast

1. Most importantly Dr. Recommend do fast atleast once in a week, which is also called a water fast.
2. Due to fast we are able to clean our stomach that is called intoxification.

Vrat karne ki vidhi hindi mein

1 जिस देवता के लिए करना है उससे जुड़ी चीज़े इस्तेमाल।करनी है।
2 हर व्रत का अलग अलग विधि है
3 व्रत से जुड़ी किताबे या मंत्र अवश्य पढ़ें

अगले लेख में देवताओ के लिए व्रत कैसे करे हर देवता देवता का अलग अलग विधि सहित लेख आएगा कमेंट सेक्शन में बताए।जिसकी विधि चाहिए 
Read More »

Know About Lal Kitab | What is Lal kItab | Lal Kitab origin

Detailed Introduction: History about Lalkitab 19वीं शताब्दी के दौरान पाकिस्तान के पंजाब क्षेत्र में, पंडित गिरिधारी लाल जी शर्मा ब्रिटिश प्र...

Contact form

Name

Email *

Message *